Security guard business. सिक्योरिटी एजेंसी कैसे खोलें - sure success hindi

success comes from knowledge

Breaking

Post Top Ad

Tuesday, May 28, 2019

Security guard business. सिक्योरिटी एजेंसी कैसे खोलें

Security guard business.सिक्योरिटी एजेंसी कैसे खोलें 

हमारे देश में सिक्योरिटी एजेंसी का कार्य तेजी से बढ़ते व्यवसायों में शामिल है। यह कार्य महानगरों से होता हुआ छोटे शहरों और कस्बों तक फ़ैल गया है।  सि‍क्‍योरि‍टी कर्मचारि‍यों की जरूरत फैक्‍ट्रियों, सोसाइटी, मॉल, स्कूल, रेस्टॉरेंट  के साथ बड़े आयोजनों में व्‍यवस्‍था बनाए रखने के लि‍ए तो पड़ती ही है।  आजकल वैवाहिक समारोहों और घरेलू कार्यक्रमों में भी सि‍क्‍योरि‍टी गार्ड रखे जाते हैं। 

       यदि सिक्योरिटी एजेंसी के काम में रूचि है तो यह काम छोटे पैमाने पर कम बजट के साथ भी स्टार्ट किया जा सकता है, जो बाद में इनकम का अच्‍छा जरि‍या बन सकता है।सिक्योरिटी एजेंसी का कार्य किसी अवसर विशेष में सिक्योरिटी गॉर्ड उपलब्ध करवाने के साथ कॉर्पोरेट सुरक्षा गार्ड और आवासीय सुरक्षा गार्ड की सुविधा प्रदान करना है। व्यापार और फिल्म जगत के सेलिब्रिटी भी अपनी सुरक्षा के लिए सिक्योरिटी एजेंसी के जरिये बाउंसर की सेवाएं लेते हैं। 

security-officer

      सि‍क्‍योरि‍टी एजेंसी खोलने के लिए लाइसेंस लेना होता है। इस लाइसेंस को पाने के लिए पहले कुछ डाक्यूमेंट्स की जरूरत होती है। सि‍क्‍योरि‍टी एजेंसी का काम लोगों की सुरक्षा से जुड़े होने के कारण बहुत जिम्मेदारी और ध्यान देने वाला कार्य  है। किसी गार्ड द्वारा की गई चूक या लापरवाही से होने वाली घटना अथवा जान बूझ कर उसके द्वारा किसी कांड को अंजाम देने की जिम्मेदारी एजेंसी की बनती है। जिसके लिए संचालक को तैयार रहना होगा।  सि‍क्‍योरि‍टी एजेंसी शुरू करने के लिए कुछ मापदंडों को पूरा करने की आवश्यकता होती है। आइये जानते हैं सि‍क्‍योरि‍टी एजेंसी कैसे खोलें, उसके लि‍ए क्‍या तैयारी जरूरी है और अपने व्यवसाय को कैसे बढ़ाएं।    

सि‍क्‍योरि‍टी एजेंसी कैसे खोलें 


1. फर्म रजिस्टर करवायें

किसी भी प्रकार के व्यवसाय के सफल होने के चांस तभी होते हैं जब उसकी सही प्लानिंग की जाए। सबसे पहले अपनी सिक्योरिटी एजेंसी कंपनी का नाम रखे तथा स्थानीय गुमास्ता विभाग (registration of establishment) में उस नाम से पंजीयन करवायें। अपनी फर्म का लोगो बनवाये। 
       
       सिक्योरिटी एजेंसी के अकेले ओनर हैं तो Proprietorship के तहत  और अगर बिज़नेस में कोई सहयोगी रखना चाहते हैं तो पार्टनरशिप में फर्म को  रजिस्टर करवायें। यदि आरम्भ से सिक्योरिटी एजेंसी बड़े स्तर पर खोलने की योजना है तो किसी चार्टर्ड अकाउंटेंट (CA) की मदद से  प्राइवेट लिमिटेड कम्पनी के तौर पर फर्म रजिस्टर करवायें।

2.  GST रजिस्ट्रेशन करवाएं 

सिक्योरिटी एजेंसी का कार्य सेवा प्रदान करने का होता है इसलिए वो सर्विस टैक्स के दायरे में आती है। इसके लिए GST रजिस्ट्रेशन करवाना जरूरी है। फर्म रजिस्टर होने के पश्चात GST रजिस्ट्रेशन के लिए आवेदन  कर सकते है।

3. प्रोविडेंट फण्ड और ESI पंजीयन 

जब किसी कंपनी में कर्मचारियों की संख्या 20 से अधिक हो जाती है तो उस कंपनी को कर्मचारी प्रोविडेंट फण्ड (EPF) के लिए रजिस्ट्रेशन करना अनिवार्य हो जाता है। 

    सिक्योरिटी एजेंसी में 10 से अधिक गार्ड या वर्कर है तो कंपनी को ESI  के लिए पंजीयन करवाना होता है। इसके तहत एजेंसी के कर्मचारी को इंस्युरेन्स की सुविधा प्राप्त  होती है। इसके साथ ही श्रम (लेबर) विभाग में रजिस्ट्रेशन करवा दें।

      उपरोक्त रजिस्ट्रेशन के पश्चात  सिक्योरिटी लाइसेंस के लिए अप्लाई कर सकते है।
security-guard

सिक्योरिटी गार्ड एजेंसी के लिए लाइसेंस प्राप्त करना


यह लाइसेंस "प्राइवेट सिक्योरिटी एजेंसी रेगुलेशन एक्ट" (PSARA) 2005 के तहत जारी किया जाता है। इस एक्ट में सिक्योरिटी गार्ड एजेंसी से सम्बंधित सभी हिदायते दी गयी है। इस लाइसेंस के बगैर  सिक्योरिटी एजेंसी नही चलाई जा सकती है।इसलिए प्राइवेट सिक्योरिटी एजेंसी लाइसेंस होना अनिवार्य है। PSARA लाइसेंस के लिए एलिजिबिलिटी इस प्रकार है -

A. पुलिस वेरिफिकेशन के लिए Form -I में एक एप्लीकेशन सबमिट करें ताकि एप्लिकेंट की पुलिस द्वारा वेरिफिकेशन हो सके। संचालक का कोई क्रिमिनल रिकॉर्ड नहीं होना चाहिए। पुलिस वेरिफिकेशन के साथ उसकी शिक्षा, एड्रेस प्रूफ और ITR की कॉपी संलग्न हो। 



B. सिक्योरिटी गार्ड के यूनिफार्म की डिज़ाइन और बैज के साथ उसमें  सिक्योरिटी गार्ड के फोटो संलग्न हों। 

C. आसानी से लाइसेंस प्राप्त करने के लिए आपके पास उचित और योग्य सुरक्षा गार्ड होना चाहिए। एक सुरक्षा व्यवसाय के स्वामी के रूप में आपको सुरक्षा गार्ड प्रशिक्षण से भी अच्छी तरह परिचित होना चाहिए। 

D. सिक्योरिटी गार्ड तथा सुपरवाइजर की ट्रेनिंग के लिए राज्य सरकार द्वारा मान्यता प्राप्त सिक्योरिटी गार्ड ट्रेनिंग इंस्टीट्यूट के साथ MOU साइन करे।

     इसके पश्चात कंट्रोलिंग अथॉरिटी सभी डाक्यूमेंट्स वेरीफाई करती है और पुलिस द्वारा NOC मिलने के पश्चात ही सिक्योरिटी एजेंसी चलाने का लाइसेंस जारी होता है। इसकी लाइसेंस फीस 1 जिले के लिए 5000/-होती है। हर 5 साल में इसका नवीनीकरण होता है। 
guard-dog-breeds



सिक्योरिटी एजेंसी का संचालन कैसे करें 



अपनी सिक्योरिटी एजेंसी के संचालन की योजना तैयार करते समय आपको निम्नलिखित बिंदुओं पर विचार करना चाहिए -


A. सही गार्ड का चयन -

प्रारम्भ में आपके द्वारा प्रदान की जाने वाली सुरक्षा गार्ड सेवायें किस प्रकार की होंगी। आपका फोकस इंडस्ट्रियल क्षेत्र में है या केवल घरेलू और व्यवसायिक एरिया में गॉर्ड सप्लाई करेंगे। उस हिसाब से अपने गॉर्ड को तैयार करें। अपनी एजेंसी के लिए गार्ड का चयन करते समय गाइड लाइन का पालन करते हुए उनकी ऊंचाई और पर्सनालिटी का विशेष ध्यान रखें। आपके गार्ड की पर्सनालिटी जितनी रौबदार लगेगी, एजेंसी की प्रतिष्ठा उतनी तेजी से बढ़ेगी। 

B. धन की पर्याप्त व्यवस्था -

इस कार्य को शुरू करने के लिए आपके पास लगभग 2 लाख रूपये न्यूनतम बजट होना चाहिए। आवश्यक बजट की व्यवस्था  नहीं  है तो आप ऋण के लिए वित्तीय संस्थानों से संपर्क कर सकते हैं। यदि उन्हें आपकी योजना लाभकारी लगी, तो सुरक्षा गार्ड सेवाओं के लिए बिज़नेस लोन प्राप्त कर सकते हैं। 

C. बेहतर कार्य करें -

अन्य सुरक्षा सेवा कंपनियां कैसे कार्य करती हैं, उनमें कौन सी अच्छी बातें और जोड़ कर अपनी एजेंसी में लागू करें इसका चिंतन करना आवश्यक है। व्यवसाय की सफलता इसी बात पर निर्भर है कि अपने प्रतिस्पर्धियों से बेहतर और सस्ती सेवा किस प्रकार उपलब्ध करवाई जाती है। यहां डिमांड और सप्लाई का विशेष ध्यान रखते हुए कार्य करना होता है। अगर आपने अधिक गार्ड भर्ती कर लिए और मार्केट में डिमांड नहीं है तो गार्ड को पेमेंट देने में परेशानी होगी। इसके विपरीत अगर आर्डर के समय गार्ड उपलब्ध न हों तो इसे भी प्रॉपर तरीके से मैनेज करना होता है। 

also read -

1.tips for travel agency

2.construction builder kaise bne
security-guard



D. पुलिस रिकॉर्ड स्वच्छ रखें -

आपको अपने गार्ड से काम निकलवाने में माहिर होना चाहिए। उन्हें अनुशासन में रखना आपकी जिम्मेदारी है परन्तु इसके लिए आपके द्वारा किसी प्रकार का बल प्रयोग नहीं होना चाहिए। इसका विशेष ध्यान रखें कि आपका पुलिस रिकॉर्ड  सदा स्वच्छ बना रहे। 

E. एक्सपर्ट ट्रेनर की मदद लें -

आपको यह जानना होगा कि इस व्यवसाय में कैसे आगे बढ़ा जा सकता  है। इसके लिए सुरक्षा गार्ड एजेंसी की बारीकियों के बारे में जानना होगा। आपको अपने ग्राहकों को सर्वोत्तम सेवा प्रदान करने  के साथ आपातकालीन स्थितियों को संभालने के लिए अपने गार्ड को ट्रेन्ड करना होगा। एक्सपर्ट ट्रेनर के माध्यम से सुरक्षा गार्ड यह समझ पाएंगे कि आग, सशस्त्र डकैती, दंगे और रासायनिक दुर्घटना होने की दशा में कैसे  प्रतिक्रिया करना होगा। 
security-logo

F. सिक्योरिटी एजेंसी का प्रचार प्रसार - 

अपने व्यवसाय की मार्केटिंग   करना एक महत्वपूर्ण कार्य  है। लोगों को आपके बिज़नेस के बारे में जितना अधिक पता होगा, उतने अधिक ग्राहक आने की संभावना बढ़ती  है।  इसके लिए जिन जगहों में सिक्योरिटी गार्ड की जरूरत पड़ती है वहां सम्पर्क करें। साथ ही एजेंसी के प्रचार के लिए   होर्डिंग लगवाएं और स्थानीय टेलीविजन, समाचार पत्र और इंटरनेट आदि का उपयोग करें।


G. मजबूत सुपरविजन सिस्टम रखें -

अपने ग्राहकों को सर्वोत्तम सेवा प्रदान करने के लिए आपका निगरानी सिस्टम बहुत मजबूत होना आवश्यक है। फैक्ट्री जैसी जगहों में रात और दिन सुरक्षा गार्ड रखे जाते हैं। यहां सुनिश्चित करने की आवश्यकता होती है गार्ड अपनी ड्यूटी में उपस्थित रहे और सोता हुआ न पाया जाए। व्यवस्था बनाये रखने के लिए सुपरवाइजर के साथ संचालक को भी इस बारे में अलर्ट रहना होगा। एक बार भी आपके ग्राहक को शिकायत का मौका नहीं मिलना चाहिए तभी आपकी छवि सर्वोत्तम सुरक्षा गार्ड सेवा प्रदाता की बन सकेगी। यह एकमात्र तरीका है जिसके माध्यम से आप अन्य सिक्योरिटी एजेंसियों के साथ प्रतिस्पर्धा कर सकते हैं।

       आशा है ये पोस्ट  "Security guard business. सिक्योरिटी एजेंसी कैसे खोलें" आपको पसंद आई होगी। इसे शेयर कर सकते हैं साथ ही यदि आपका कोई सुझाव या सवाल हो तो कमेंट द्वारा बताएं। ऐसी ही अन्य उपयोगी जानकारी के लिए इस वेबसाइट पर विजिट करते रहें।

also read -

1.welding workshop udyog kaise lgaye

2. places to visit panchmarhi. पचमढ़ी की सैर  


No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad