World's Most Poisonous Tree- Manchineel दुनियां का सबसे जहरीला पेड़ - sure success hindi

success comes from knowledge

Breaking

Post Top Ad

Monday, 22 February 2021

World's Most Poisonous Tree- Manchineel दुनियां का सबसे जहरीला पेड़

World's Most Poisonous Tree-Manchineel दुनियां का सबसे जहरीला पेड़ 

दुनिया में कई ऐसे पेड़ पौधे और फल हैं जो विषैले होते हैं। भारत में पाए जाने कनेर, धतूरा विषैले पौधों में शामिल हैं। लेकिन मैंशीनील (Manchineel) को दुनिया का सबसे डेंजरस ट्री कहा जाता है।


  इस पेड़ का हर हिस्सा जहरीला होता है। इतना ही नहीं बारिश के समय इस पेड़ के नीचे खड़े रहना भी खतरनाक हो सकता है। 


manchineel-leaf and fruit


 गिनेस वर्ल्ड रेकॉर्ड्स के मुताबिक मंचीनील दुनिया का सबसे खतरनाक पेड़ है, इसके फल को "मौत का सेब" कहा जाता है। वेस्ट इंडीज और सेंट्रल अमेरिका के समुद्र तटीय इलाके में पाए जाने के कारण इसे "बीच एप्पल" भी कहा जाता है। इसका एक फल खाने पर आदमी की जान पर बन सकती है। आइये  जानते हैं इसके बारे में। 


  फ्लोरिडा और कैरेबियन तट पर पाए जाने वाला मैंशीनील का सदाबहार पेड़, हिप्पोमेन मैनसिल्ला, 15 मीटर (49 फीट) तक बढ़ता है। इसमें छोटे-छोटे हरे-पीले फूल होते हैं। इसके चमकदार हरे पत्ते 5-10 सेंटीमीटर (2-4 इंच) लंबे होते हैं।  

manchineel flower spikes

    छोटे हरे रंग के फूलों के स्पाइक्स होते हैं, जिसमेँ छोटे सेब के समान फल आते हैं, जो पकने पर हरे या हरे-पीले होते हैं। फल जहरीला होता है, जैसा कि पेड़ के दूसरे हिस्से भी जहरीले होते है।


   अगर इस पेड़ का रस आंखों में लग जाए तो आखों के कई रोग हो सकते हैं यहां तक कि अस्थायी अंधापन भी हो सकता है। यह पेड़ इतना विषाक्त है कि इसकी लकड़ियों को जलाने पर निकलने वाला धुआं भी अगर आंखों तक पहुंच जाए तो आंखों की रोशनी जा सकती है। 


manchineel plant


  पेड़ के हर हिस्से जैसे छाल, पत्तियों और फलों से एक तरह का दूध जैसा रस निकलता है जो काफी  जहरीला होता है। अगर इस रस की एक बूंद भी त्वचा पर गिर जाए तो बहुत तेज जलन महसूस होती है। इसके रस में कई जहरीले तत्व पाए जाते हैं लेकिन सबसे खतरनाक फॉरबोल पाया जाता है। इसकी वजह से बारिश के दिनों में पेड़ के नीचे खड़ा रहना भी खतरनाक हो जाता है। 


   दरअसल फॉरबोल बहुत तेजी से पानी में घुल जाता है। जब बारिश होती है तो पानी की बूंदों के साथ मिलकर वह नीचे गिरता है जिससे स्किन पर तेज जलन होती है और सूजन पैदा होती है। इसे कारों के पेंट को नुकसान पहुंचाने के लिए भी जाना जाता है। 


manchineel fruits

    अगर इसके फल को खा लिया तो सबसे ज्यादा घातक हो सकता है, इसे खाने के बाद उल्टियां और पेचिश होने लगती है जिससे इंसान की जान तक चली जाती है।  


कैरिबियाई द्वीप टबैगो घूमने गई रेडियोलाजिस्ट निकोला ने गलती से इसका फल खा लिया था, जिसके कारण वह मरते-मरते बची थीं।  यह बात 1999 की है, बीच पर टहलते समय उनको एक हरा फल दिखा जो सेब जैसा दिख रहा था।  


 जब उन्होंने इसे खाया तो पहले उन्हें इसका स्वाद अच्छा लगा, फिर थोड़ी देर बाद उनको जलन सी महसूस होने लगी और गला जाम होने लगा।  समय रहते उनको उपचार मिल गया इसलिए उनकी जान बच सकी, परन्तु उनकी हालत ठीक होने में करीब 8 घंटे लगे। 


manchineel fruits

   इसका विवरण देते हुए निकोला ने लिखा था - मैंने इस फल का एक बाइट लिया और इसे मीठा पाया। मेरे सुझाव पर मेरे दोस्त ने भी इसे खाया। 


   कुछ क्षणों के बाद मुंह में एक अजीबोगरीब मिर्ची जैसा अहसास होने लगा, जो धीरे-धीरे एक तेज़ जलन और गले की जकड़न में बदल गया। लक्षण कुछ घंटों में बिगड़ते गए और हम कष्टदायी दर्द और गले में भारी बाधा के कारण ठोस भोजन को निगल नहीं सकते थे।

manchineel plant
    

इसकी चमकदार, ट्रॉपिक-हरी पत्तियों और फल किसी को भी ललचा सकते हैं परन्तु इससे बचकर रहें। इस पेड़ के पास चेतावनी बोर्ड लगाए जाते हैं कि लोग पेड़ के तने या किसी भी शाखा को न छुएं। 


  यहां तक कि कोई भी लम्बे समय तक पेड़ के नीचे या उसके पास खड़ा न हो। पेड़ के पास रहते हुए अपनी आंखों को न छुएं।


also read -


Visit to Places in Lonawala Khandala- लोनावला खंडाला हिल स्टेशन  


Somnath Temple of Chhattisgarh-छत्तीसगढ़ का सोमनाथ मंदिर 


Land Buying Tips-जमीन खरीदते समय कौनसी सावधानियां रखें 


manchineel caution board

 

कैरिबियन के आदिवासी लोग मैंशीनील पेड़ से परिचित थे और कई उद्देश्यों के लिए इसका इस्तेमाल करते थे। विशेष रूप से शिकार करते समय तीर के टिप में इसके रस का इस्तेमाल किया जाता था। 


  हालांकि, इस पेड़ की लकड़ी का उपयोग गैर-घातक उद्देश्यों के लिए किया गया है, और फर्नीचर उद्योग के लिए यह बेशकीमती है।  


    इसे उपयोग करने योग्य बनाने के लिए इसे नीचे से काटने की जगह, आधार पर जला दिया जाता है और कई दिनों तक धुप में सूखने के लिए छोड़ दिया जाता है। क्योंकि कोई भी नहीं चाहेगा कि वह कुल्हाड़ी लेकर मैंशीनील को काटने जाए और उसके दूध के सम्पर्क में आये। 


 आशा है ये आर्टिकल "World's Most Poisonous Tree- Manchineel दुनियां का सबसे जहरीला पेड़" आपको पसंद आया होगा, इसे अपने मित्रों को शेयर कर सकते हैं। अपने सवाल एवं सुझाव कमेंट बॉक्स में लिखें। ऐसी ही और भी उपयोगी जानकारी के लिए इस वेबसाइट पर विज़िट करते रहें।


also read -


Heroin, Cocain, Meth and LSD-हेरोइन, कोकीन मेथ और LSD क्या है 


Fake Call Frauds- बस एक कॉल और खाता साफ़ 


Signs of Share Market Crash- क्या शेयर बाजार गिरने वाला है?



No comments:

Post a comment

Post Bottom Ad