Malaysia Tourist Places and Travel Tips-मलेशिया टूर गाइड - sure success hindi

success comes from knowledge

Breaking

Post Top Ad

Friday, 5 March 2021

Malaysia Tourist Places and Travel Tips-मलेशिया टूर गाइड

Malaysia Tourist Places and Travel Tips-मलेशिया टूर गाइड  

थाईलैंड के दक्षिण में स्थित मलेशिया, दक्षिण पूर्व एशिया के प्रमुख पर्यटन केंद्रों में से एक है। यह  अपने समुद्र तटों, वर्षावनों, और प्राकृतिक सुंदरता के साथ अपने आधुनिक मनोरंजन केंद्रों के लिए जाना जाता है। राजधानी कुआलालंपुर में दुनिया के सबसे ऊंचे ट्विन टॉवर देखना चाहते हों, चाहे आप ट्रेकिंग के शौक़ीन हों या समुद्र तट पर आराम करना चाहते हों अथवा डाइविंग करके समुद्री जीवन की ख़ूबसूरती को निहारना चाहते हैं, मलेशिया की यात्रा निश्चित रूप से एक मजेदार अनुभव है।

Peronas tower, Malaysia

    मलेशिया दक्षिण पूर्व एशिया में स्थित लगभग सवा तीन करोड़ आबादी वाला देश है। यह दक्षिण चीन सागर से दो भागों में विभाजित है। इसका एक भाग मलय प्रायद्वीप पर स्थित मुख्य भूमि में देश की राजधानी कुआलालंपुर है।  देश का दूसरा हिस्सा, जिसे कभी-कभी पूर्व मलेशिया के नाम से भी जाना जाता है, दक्षिण चीन सागर में बोर्नियो द्वीप के उत्तरी भाग पर स्थित है। इसका क्षेत्रफल मलेशिया के कुल क्षेत्रफल का लगभग 60% है परन्तु यहां की आबादी मुख्य भूमि की तुलना में बहुत कम है। 


    मलय प्रायद्वीप पर स्थित कुआलालंपुर, मलेशिया की राजधानी है, लेकिन कुछ वर्षों पहले संघीय राजधानी को खासतौर से प्रशासन के लिए बनाए गए नए शहर पुत्रजया में स्थानांतरित कर दिया गया है। यह 13 राज्यों से बनाया गया एक एक संघीय राज्य है। मलेशिया में मुख्यतः चीनी, मलय और भारतीय मूल के लोग निवास करते हैं। 


woman in hijab

    यहाँ की आधिकारिक भाषा मलय है, लेकिन शिक्षा और आर्थिक क्षेत्र में ज्यादातर अंग्रेजी का इस्तेमाल किया जाता है। मलेशिया के सीमावर्ती देशों में ब्रुनेई, थाईलैंड, सिंगापुर और इंडोनेशिया शामिल हैं। वैसे मलेशिया एक इस्लामिक देश है, लेकिन नागरिकों को अन्य धर्मों को मानने की स्वतंत्रता है। 


   मलेशिया की यात्रा दक्षिण पूर्व एशिया के कुछ देशों की तुलना में थोड़ा महंगी परन्तु पडोसी देश सिंगापुर या किसी भी पश्चिमी देश की तुलना में सस्ती है। यहां की मुद्रा रिंगिट (Ringgit) है, जो वर्तमान में लगभग 18 भारतीय रूपये के बराबर है। विदेश की यात्रा के लिए डॉलर लेकर जाएँ, जिसे किसी भी देश की मुद्रा से एक्सचेंज करना अपेक्षाकृत आसान होता है।

 

building in Kuwala lumpur


  मलेशिया के लिए पैकिंग करते समय याद रखने वाली एक बात यह है कि यहां मौसम ज्यादातर गर्म रहता है इसलिए हल्के कपड़े, आरामदायक जूते और एक छाता पैक करें। मैं अपनी मलेशिया यात्रा के अनुभव के आधार पर आपको सलाह दूंगा कि हो सके तो गर्मी के मौसम में यहां की यात्रा करने से बचें। आइये जानते हैं मलेशिया के प्रमुख दर्शनीय स्थलों के बारे में -


मलेशिया के देखने योग्य स्थान (Malaysia Tourist Places)


1. पेट्रोनास ट्विन टॉवर्स -


मलेशिया की पहचान, पेट्रोनास टावर्स दुनिया में सबसे ऊंचे जुड़वां (Twin) टॉवर हैं। इसमें मलेशिया की तेल कंपनी पेट्रोनास का ऑफिस है। 2004 तक यह दुनियां की सबसे ऊँची बिल्डिंग थी, वर्तमान में यह खिताब दुबई के बुर्जखलीफा को प्राप्त है। पेट्रोनास टॉवर में 88 मंज़िलें हैं,  इसके 86 वीं मंजिल पर एक अवलोकन डेक है जहां से आप कुआलालंपुर का नज़ारा ले सकते हैं। इसके लिए आप ऑनलाइन टिकट बुक कर सकते हैं। 

twin towers, malaysia

   पेट्रोनास टॉवर, बहुत सी साउथ और बॉलीवुड फिल्मों की गीतों की पृष्ठभूमि में दिखाई दिए हैं।इसके टावरों को जोड़ने वाला स्काई ब्रिज (आकाश पुल) दुनिया का सबसे ऊंचा दो मंजिला पुल है। स्काईब्रिज को अपने वर्तमान स्थान पर उठाने में 3 दिन और 2 अटेम्प्ट लगे थे।


2. बाटू गुफा (Batu Caves) -


कुआलालंपुर के उत्तर में लगभग 13 किलोमीटर की दूरी पर स्थित बाटू गुफाएं, कुआलालंपुर के सबसे अधिक आकर्षक पर्यटक स्थलों में से एक है। यह एक चूना पत्थर की पहाड़ी है जिसमें तीन प्रमुख गुफाएं हैं। मुख्य गुफा में एक प्राचीन मंदिर है, यह एक महत्वपूर्ण धार्मिक स्थल माना जाता है।मलेशिया के थिपुसम उत्सव के समय हजारों की संख्या में भक्त यहां आते हैं।


Batu Caves- Murugan statue

   बाटू गुफाओं में सबसे बड़ी और सबसे लोकप्रिय गुफा कैथेड्रल गुफा है, इसकी 100 मीटर ऊंची मेहराबदार छत के नीचे कई हिंदू मंदिर हैं। मंदिर तक जाने के लिए 272 सीढ़ियां हैं। सीढ़ियों के पास ही भगवान मुरुगन (Murugan) की 140 फिट ऊँची सुनहरे रंग की विशाल मूर्ति है।  


   सीढियाँ चढ़ने के बाद आप एक बड़ी गुफा में पहुंच जाते हैं, जहां मंदिर स्थित हैं। इस गुफा की विशालता देखकर रोमांचित होना स्वाभाविक है। बाटू हिल के निचले सिरे में दो अन्य गुफा मंदिर हैं - आर्ट गैलरी गुफा और संग्रहालय गुफा - जिसमें कई हिंदू मंदिर और चित्र हैं। 


temple in Batu caves

    यहां आसपास के रेस्टॉरेंट्स में आप शुद्ध शाकाहारी भारतीय भोजन का आनंद ले सकते हैं, जो केले के पत्ते में परोसा जाता है। आपको बता दें कि बाटू केव्स के आसपास नॉनवेज भोजन वर्जित है। यहां काफी संख्या में बंदर देखे जाते हैं इसलिए सतर्क रहें। यहां पहुंचने के लिए कुवालालंपुर के सेंट्रल मार्केट से बस उपलब्ध हैं या प्राइवेट टैक्सी के जरिये यहां पहुंचा जा सकता है। 


3. केएलसीसी एक्वेरियम -


कुआलालांपुर में केएलसीसी एक्वेरियम देखने लायक हैं। पाँच हजार स्के.फुट में फैले इस एक्वेरियम में 250  प्रजातियों के पांच हजार से ज्यादा जीव हैं। इसमें एक 90 मीटर की टनल भी है, जिसमें ऐसा एहसास होता है कि आप समुद्र के भीतर से ही इन्हें देख रहे हैं। 


  विशेष अवसरों पर इस एक्वेरियम में एक टैंक के अंदर मर्मेड (जलपरी) बनकर परफॉर्म करती कलाकार को देख सकते हैं । वहीं क्रिसमस के उत्सव के दौरान स्कूबा डाइवर्स को सांता क्लॉज बनकर मछलियों के टैंक में उन्हें खाना खिलाते देख सकते हैं। 


4. ज़ू नेगारा (Zoo Negara) -


ज़ू नेगारा 110 एकड़ भूमि में बनाया गया है जो कुआलालंपुर शहर से केवल 5 किमी दूर स्थित है। इस चिड़ियाघर में आपको वाइट टाइगर से लेकर पांडा तक विभिन्न प्रकार के जानवर देखने को मिलेंगे।  


zoo negara


   पुरानी चिड़ियाघर की अवधारणा को बदलते हुए यहां के अधिकतर जानवर आप खुले में  घूमते हुए देख सकते हैं।  यहां वयस्क का एक टिकट लगभग 1500 रूपये के बराबर होता है जबकि 3 से 12 वर्ष के बच्चों को इसका आधा टिकट लगता है। 


5. के एल बर्ड पार्क (KL Bird Park) -


1991 में खोला गया, के एल बर्ड पार्क कुआलालंपुर का एक और विशेष आकर्षण है। 20 एकड़ से अधिक क्षेत्र  फैले इस बर्ड पार्क में आप विभिन्न प्रजाति के पक्षियों को बिना पिंजरे के प्राकृतिक वातावरण में देख सकते हैं। 

bird in bird park

   कलरव करते एवं उड़ते हुए रंग बिरंगे बर्ड्स को देखकर लगता है मानो हम किसी ज़ू में होकर पक्षी अभ्यारण्य में पहुंच गए हों।  कुआलालंपुर जाने पर इस बर्ड पार्क में अवश्य जाएं, यहां आकर मन प्रफुल्लित हो उठता है। परिवार के साथ आकर मनोरंजन करने के लिए यह एक अच्छी जगह है। 


water in bird park

    दोपहर के समय यहां बर्ड शो दिखाया जाता है, जिसमें मनोरंजक अंदाज़ में पक्षियों को कई प्रकार के करतब करते हुए देख सकते हैं। यहां बड़ों का एक टिकट लगभग 1100 रूपये और बच्चों के लिए 750 रूपये का लगता है। के एल बर्ड पार्क खुलने का समय सुबह 9 बजे से लेकर शाम 6 बजे तक है। इसके समीप ही बटरफ्लाई पार्क है, जहां आप जा सकते हैं। 


6. लैंगकॉवी (Langkawi) द्वीप -


यदि आपको मलेशिया में प्राकृतिक नज़ारों के बीच रिलैक्स होने की चाह है तो लैंगकॉवी बेस्ट ऑप्शन है। यहां के खूबसूरत समुद्र तट आपकी सारी थकान मिटा देंगे और आप तरोताज़ा महसूस करेंगे।लैंगकॉवी (Langkawi) एक द्वीप समूह है जो मलेशिया के पश्चिमी तट पर 99 द्वीपों से बना है।   


   मुख्य द्वीप का आंतरिक भाग सुरम्य धान के खेतों और जंगल-जंगल पहाड़ियों का मिश्रण है, जो नीले - फ़िरोज़ी समुद्र से घिरा हुआ है। इसके समुद्र तट पर पाउडर-महीन रेत और अंडरवाटर वर्ल्ड के साथ लहराते हुए नारियल के पेड़ हर प्रकृति प्रेमी को अपनी ओर आकर्षित करते हैं। यदि मलेशिया में कुछ दिन रहना चाहते हैं तो लैंगकॉवी द्वीप के अविश्वसनीय समुद्र तटीय सुंदरता का आनंद अवश्य लें।

peacock in bird park

7. तमन नेगारा नेशनल पार्क -


तमन नेगारा, दुनिया के सबसे पुराने वर्षावनों में से एक है, अनुमानित रूप से यह लगभग 130 मिलियन वर्ष पुराना है। इसका आनंद लें और अद्भुत प्राकृतिक सौंदर्य को निहारते हुए अपने भीतर के तनाव से मुक्त हो जाएँ। यदि आप वर्षावन और आउटडोर गतिविधियों से प्यार करते हैं तो तमन नेगारा नेशनल पार्क एक आदर्श स्थान है। 


   यहां पर आप ट्रैकिंग करते हुए वन्यजीवों का अवलोकन करने के अलावा पहाड़ पर चढ़ने और कैंपिंग करने के साथ और भी बहुत कुछ कर सकते हैं। आप इन 4 जगहों से अपने दौरे की शुरुआत कर सकते हैं - तमन नेगारा, जेरंट, कुआलालंपुर, और सुंगई रेलौ। इस क्षेत्र में रॉक क्लाइम्बिंग और कैनोइंग भी उपलब्ध है। 

genting mall


8. जेंटिंग हाइलैंड्स (Genting Highlands) -


Genting को मलेशिया के प्रमुख हिल स्टेशन के रूप में जाना जाता है,  यहां इनडोर और आउटडोर थीम पार्क स्थित है। यह अपने कैसीनो, नाइटलाइफ़, गोल्फ कोर्स, स्नो वर्ल्ड, मलेशिया के सबसे बड़े स्ट्रॉबेरी फार्म, शॉपिंग मॉल और लक्जरी होटलों के लिए प्रसिद्ध है। यह एक तरह से मलेशिया की एशियाई शैली वाला लास वेगास है।


   जेंटिंग हाइलैंड्स, केएल सिटी से बस द्वारा 45 मिनट की दूरी पर है।  एडवेंचर के शौकीनों के लिए भी जेंटिंग हाइलैंड्स परफेक्ट है, यहां उनके लिए कई तरह की एक्टिविटीज जैसे इंडोर रॉक क्लाइंबिंग और फ्लाइंग फॉक्स आदि उपलब्ध हैं।


cable car in genting

   यदि आप शहर के भीड़ भाड़ वाले जीवन से बचना चाहते हैं, तो यहां के थ्री या फाइव स्टार वाले विशाल होटल्स में रुककर ऑनसाइट खाने की सुविधाओं और लुभावने पहाड़ी दृश्यों का आनंद ले सकते हैं। मनोरंजन केंद्र के रूप में विख्यात जेंटिंग के शानदार रिज़ॉर्ट, स्थानीय लोगों और सिंगापुर से वीकेंड की छुट्टियां बिताने आये लोगों के बीच बेहद लोकप्रिय हैं।


9. जालान आलोर स्ट्रीट -


जालान आलोर, कुआलालंपुर के केंद्र में फूडी लोगों के लिए एक अनूठा स्थल है। यहां दिन के दौरान बहुत अधिक गतिविधि नहीं होती, लेकिन सूरज ढलते ही यहां पर हलचल तेज़ हो जाती है। यहां के फुटपाथों पर भोजन बेचने वाले हॉकर और स्टाल लाइन से सजे दिखाई पड़ते हैं।



   यह केवल स्थानीय लोगों के लिए नहीं है, बल्कि अक्सर विदेशी लोग भी यहां आकर अनोखे मलेशियाई व्यंजनों का स्वाद लेते हैं। वहीं कुछ लोग केवल यहां की नाईट लाइफ देखने चले आते हैं। 

 

   कुआलालम्पुर में शॉपिंग करने के लिए काफी सारे मॉल्स हैं। 3450000 स्के. फुट में फैला बरजाया टाइम स्क्वेअर मॉल मलेशिया का सबसे बड़ा मॉल है। इसमें विश्व के सर्वश्रेष्ठ ब्रांड्स उपलब्ध हैं। यहाँ के कुछ छोटे मॉल्स में मोल-भाव भी किया जा सकता है। सन वे सिटी होटल में स्थित वॉटर पार्क काफी बड़ा है। इसके पास ही छः मंजिला  मॉल है, इसमें आईस स्केटिंग करने की व्यवस्था भी है।


little india

  कुआलालम्पुर में आप लिटिल इंडिया नामक स्थान भी देख सकते हैं, यहां चाइना टाउन भी है। इसके अलावा केएल टॉवर, नेशनल प्लेनेटोरियम, आर्किड पार्क, बटरफ्लाई पार्क, कैमरून हाइलैंड्स आदि भी काफी खूबसूरत हैं।


मलेशिया कैसे जाएँ -


मलेशिया जाने के लिए आपको जरूरत होगी पासपोर्ट की जिसकी वैधता 6 महीने से अधिक की बची हुयी हो, दूसरा- फ्लाइट की मलेशिया आने और जाने की टिकट, तीसरा- E वीज़ा या वीज़ा ऑन अराइवल ले सकते हैं, चौथा मलेशिया में आप किस होटल में रुकेंगे इसकी जानकारी। 


   मलेशिया टूर के साथ आप सिंगापुर या थाईलैंड घूमने की प्लानिंग भी कर सकते हैं इन देशों में आप मलेशिया से बस द्वारा भी जा सकते हैं। भारत से मलेशिया जाने के लिए फ्लाइट की टिकट आपको चेन्नई या कोलकाता से सस्ती पड़ेगी, बेहतर होगा कि आप मलेशिया के लिए E वीज़ा लेकर जाएँ।


also read -


Singapore ki Yatra-Singapore Yatra with Cruise


Thailand Trip in Hindi-बैंकाक पट्टाया की सैर 


Amarkantak Tour Guide-अमरकंटक के दर्शनीय स्थल 


sunway lagoon

   जहां तक मलेशिया में रुकने की बात है तो आपको बता दें कि कुआलालम्पुर इंटरनेशनल एयरपोर्ट से सिटी सेंटर 55 किलोमीटर दूर हैं। सुविधा के लिए आप KL सेंट्रल या लिटिल इंडिया के आसपास होटल ले सकते हैं। मलेशिया का टूर पैकेज लेकर यात्रा करना अधिक सरल होता है क्योंकि आपको होटल और गाइड आदि लेने का टेंशन नहीं रहता। 


   यदि आप किसी टूर ऑपरेटर से पैकेज लेकर जा रहे हैं तो उसमें मील्स को जरूर ऐड करवा लें अन्यथा आपको शाकाहारी भोजन के रेस्टॉरेंट्स ढूंढने में परेशानी हो सकती है। यदि लैंगकॉवी और नेशनल पार्क को अपने टूर में शामिल करते हैं तो आपके पास 4 -5 दिन का समय अवश्य होना चाहिए। 


   आशा है ये आर्टिकल "Malaysia Tourist Places and Travel Tips-मलेशिया टूर गाइड " आपको पसंद आया होगा, इसे अपने मित्रों को शेयर कर सकते हैं। अपने सवाल एवं सुझाव कमेंट बॉक्स में लिखें। ऐसी ही और भी उपयोगी जानकारी के लिए इस वेबसाइट पर विज़िट करते रहें।


also read -


Places to Visit in Lonawala-Khandala-लोनावला खंडाला हिल स्टेशन 


Home Treatment for Liver-लीवर की सफाई के कामयाब नुस्खे 


Natural Remedies for Cough-खांसी ठीक करने के जादुई उपाय 



No comments:

Post a comment

Post Bottom Ad