Tips for travel agency. ट्रेवल एजेंसी कैसे स्टार्ट करें - sure success hindi

success comes from knowledge

Breaking

Post Top Ad

Thursday, May 16, 2019

Tips for travel agency. ट्रेवल एजेंसी कैसे स्टार्ट करें

Tips for travel agency. ट्रेवल एजेंसी कैसे स्टार्ट करें 

भारत में टूरिज्म के क्षेत्र में हो रही प्रगति के कारण "ट्रेवल एजेंसी"  तेजी से आगे बढ़ता हुआ बिज़नेस है। हमारे देश में लोगों की आय बढ़ने से पर्यटन के प्रति रुझान में वृद्धि हुई है। इसका प्रमाण पर्यटन स्थलों में आने वाले लोगों की बढ़ती संख्या है। देश के अंदर ही नहीं अब तो विदेश जाने वाले भारतीयों  की संख्या काफी बढ़ी है। थाईलैंड और सिंगापुर जैसे देशों में पहुंचने वाले पर्यटकों में सर्वाधिक संख्या भारतीय लोगों की होती है।

aircraft

      आंकड़ों के अनुसार, यात्रा और पर्यटन उद्योग का योगदान भारत की GDP में करीब 8 प्रतिशत का है, और रोजगार निर्माण में इसका बड़ा योगदान है।  विश्व पर्यटन संगठन के अनुसार दुनिया की कुल नौकरियों में से लगभग 10 प्रतिशत  यात्रा और पर्यटन उद्योग  के माध्यम से मिली हुई है। 

      भारत की समृद्ध ऐतिहासिक और सांस्कृतिक विरासत के कारण दुनियां भर के पर्यटक भारत आना पसंद करते हैं। तुलनात्मक रूप से सस्ती दरों और अंग्रेजी जानने वालों की व्यापक संख्या के कारण दुनिया भर में भारत एक जाना -माना  गंतव्य स्थल है। इसलिए नए व्यवसायी के लिए ट्रैवल एजेंसी का काम एक बेहतर बिज़नेस  है। 

ट्रेवल एजेंसी का कार्य - 

जब कोई पर्यटक किसी स्थान की यात्रा करना चाहता है तो उसके सामने रुकने, घूमने और भोजन आदि की व्यवस्था का प्रश्न आता है। एक ट्रेवल एजेंसी उसकी इन्हीं समस्याओं का समाधान प्रस्तुत करती है। वह यात्री के लिए होटल बुकिंग, हवाई टिकट, बस और रेल टिकट से लेकर उसके घूमने के लिए वाहन और गाइड के साथ उसके भोजन का प्रबंध करती है। अधिकतर ट्रेवल एजेंसी ये सारी सुविधाएं एक पैकेज बनाकर यात्रियों को देती हैं। 
cruise-ship

ट्रेवल एजेंसी द्वारा निम्नलिखित सुविधाओं का प्रबंध किया जाता है -

1. यात्री के बजट के अनुसार उसके लिए यात्रा का प्लान बनाना और उसके अनुरूप होटल में रुकने और खाने की व्यवस्था करना। 

2. एयर टिकट, रेल टिकट, बस टिकट उपलब्ध करवाना और इनमें कनेक्टिविटी का ध्यान रखना। आजकल क्रूज शिप, यात्रियों के बीच लोकप्रिय होते जा रहें हैं। यात्री की डिमांड पर क्रूज में केबिन बुक करवाना। 

3. विदेश यात्रा के लिए वीजा दिलवाना, ट्रेवल इन्सुरेंस का प्रबंध करना। 

4. विदेश भ्रमण के दौरान टैक्सी या बस के साथ गाइड का प्रबंध करना। मनोरंजन केंद्रों की टिकट बुक करवाना। 
chicago

 ट्रेवल एजेंसी शुरू करने के लिए व्यवस्था -


1. ट्रेवल एजेंसी चलाने के लिए आपको होटल से लेकर  यातायात के लिए हवाई, रेल और बस सेवाओं की बुकिंग की जानकारी के साथ उनके मैनेजमेंट से परिचय होना चाहिए। अपने स्टाफ में अनुभवी लोगों को नियुक्त करें जिससे कार्य संचालन करने में आपको आसानी रहेगी। 

2. इसके लिए आपको बातचीत और व्यवहार में निपुण होना जरूरी है। अंग्रेजी का अच्छा ज्ञान भी आवश्यक है क्योकि इस काम में आपको विदेशियों से भी डील करना होगा।

3. ट्रेवल एजेंसी शुरू करने के लिए आपको एक ऑफिस की जरूरत पड़ेगी जहां पर कंप्यूटर, प्रिंटर, एसी आदि की व्यवस्था के साथ स्टाफ के बैठने की व्यवस्था होनी चाहिए। इस काम  के लिए ऑफिस या स्थान बढ़िया चुने जो मार्केट एरिया में हो और आते जाते लोगों की नज़र वहां पड़ती हो |

4. ट्रेवल एजेंसी का कार्य सेवा व्यवसाय के अंतर्गत आता है इसके लिए GST  पंजीकरण करवा लें। इसके लिए फाइनेंस मिनिस्ट्री की सेंट्रल बोर्ड ऑफ एक्साइज और कस्टम की वेबसाइट पर जाकर रजिस्ट्रेशन कराना होगा। वहां से आपको जीएसटी नंबर मिलेगा। ट्रैवल एजेंट सर्विस देते हैं इसलिए उनपर सर्विस टैक्स लगता है। 




5. आपको अपनी  ट्रैवल एजेंसी को पहचान देने के लिए ट्रेडमार्क की जरूरत होगी। आपका व्यवसाय ऑनलाइन हो या ऑफलाइन  ट्रेडमार्क पंजीकरण की आवश्यकता होती है। ट्रैवल एजेंसी का बिजनेस शुरू करने लिए अगर आप प्राइवेट लिमिटेड कंपनी या प्रॉपराइटर बिजनेस शुरू करना चाहते हैं, तो आपको कंपनीज एक्ट के तहत रजिस्ट्रेशन कराना होगा। 
planes-window


6. ट्रेवल  एजेंसी खोलने के लिए शानदार ऑफिस और पंजीकरण करवाना ही पर्याप्त नहीं है। इसके लिए आपको न्यूज़ पेपर, मैगज़ीन के साथ होर्डिंग और ऑनलाइन प्रचार प्रसार करना होगा। आप से सर्विस ले चुके कस्टमर से मोबाइल पर सम्पर्क बनाये रखें। उसे अपने नए टूर प्लान और छूट के बारे में बताएं, जिससे वह नए जगह के लिए हॉलिडे प्लान कर सकता है।  

7. यदि आप चाहें तो किसी प्रसिद्ध ट्रेवल एजेंसी की फ्रैंचाइज़ी ले सकते हैं। इसमें आपको उस कम्पनी के ब्रांड नेम का फायदा मिलेगा और उतना प्रचार करने की जरूरत नहीं रहेगी। बहुत सारी जिम्मेदारी कम्पनी के द्वारा पूरी की जाएगी इसलिए आप पर काम का बोझ कम हो जायेगा।

 8. अगर स्वतंत्र रूप से काम करना चाहते हैं तो देश और विदेश की कुछ सलेक्टेड जगहों के लिए ग्रुप टूर का समय समय पर आयोजन करें। एक ग्रुप में 20 -25 लोगों को लेकर जा सकते हैं। इनके साथ एक ग्रुप लीडर या गाइड भेजें। पहली बार विदेश घूमने के इच्छुक यात्री, ग्रुप के जाना अधिक पसंद करते हैं। इसके लिए समाचार पत्रों में विज्ञापन दें। 


9. अगर एक कामयाब एक बिज़नस मेन बनना चाहते है तो अपने काम को पूरा मन लगाकर करना जरूरी है। जब आप अपने कस्टमर का ख्याल रखेगे, उससे अच्छा व्यवहार करने के साथ बढ़िया सर्विस को प्रदान करेंगे तो वह अपने परिचित लोगों को आपकी ट्रेवल एजेंसी की सर्विस लेने को कहेगा। जिससे काम तेजी से आगे बढ़ता है। 

also read -


ariel view

ट्रेवल एजेंसी की कमाई -

1. यात्रियों के ठहरने के लिए होटलों  की बुकिंग करवाने पर कमीशन प्राप्त होता है। इसके लिए नए नए होटलों से सम्पर्क करके यह जानना होगा की कहाँ रिज़नेबल रेट में अच्छी सुविधा मिल रही है। जिससे सस्ती दरों पर आप अपने कस्टमर को होटल रूम दिलवा सकेंगे।   

2. यात्रियों के लिए  हवाई या बस टिकट बुक करवाने से ट्रेवल एजेंसी को कमीशन मिलता है। एजेंसी वाले पहले से कम रेट में टिकट खरीदकर रख लेते हैं जिसका बाद में उन्हें फायदा मिलता है। 

3. विदेश में पर्यटक द्वारा देखे जाने वाले कार्यक्रम की टिकट बुक करवाने के साथ क्रूज शिप की बुकिंग से भी फायदा मिलता है। 

4. ट्रेवल एजेंसी के ऑफिस से आप पासपोर्ट बनवाने का काम कर सकते हैं। इसके साथ पैन कार्ड बनवा कर देने की सुविधा भी लोगो को उपलब्ध करवाकर अतिरिक्त कमाई की जा सकती है। विदेश जाने वाले टूरिस्ट को मनी एक्सचेंज सुविधा प्रदान की जा सकती है। 

          आशा है ये "पोस्ट Tips for travel agency. ट्रेवल एजेंसी कैसे स्टार्ट करें" आपको पसंद आई होगी। इसे शेयर करें और अपने सवाल एवं  सुझाव कमेंट द्वारा बतायें। ऐसी और भी उपयोगी जानकारी के लिए इस वेबसाइट पर विजिट करते रहें। 

also read -
1. सिंगापुर की यात्रा singapore yatra with cruise 

2. success tips सफल लोग क्या करते हैं जो असफल नहीं करते 


No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad