Ultrasonic Pest Repeller-अल्ट्रासोनिक कीट विकर्षक: एक धोखा - sure success hindi

success comes from knowledge

Breaking

Post Top Ad

Thursday, September 3, 2020

Ultrasonic Pest Repeller-अल्ट्रासोनिक कीट विकर्षक: एक धोखा

Ultrasonic Pest Repeller-अल्ट्रासोनिक कीट विकर्षक: एक धोखा

घरों में पाएं जाने वाले मच्छर, चूहे, छिपकली व कॉकरोच हमें न सिर्फ परेशान करते हैं बल्कि इन घरेलू कीड़ोँ और कीट से मानव स्वास्थ्य को गंभीर खतरा भी होता है। अतः इनसे छुटकारा पाने के लिए तरह तरह के उपाय किये जाते हैं। इस प्रकार के घरेलू कीटों को खत्म करने के लिए एक डिवाइस का बहुत प्रचार प्रसार किया जाता है, जिसे अल्ट्रासोनिक पेस्ट रिपेलर कहा जाता है।

Ultrasonic -Pest- Repelle

 
अल्ट्रासोनिक इलेक्ट्रॉनिक कीट विकर्षक उपकरणों का दावा है कि उनके उच्च आवृत्ति वाले साउंडवेव्स घरेलू कीट  और कीड़ों के लिए असहनीय हैं। 

      इस दावे के कारण आप इनमें से किसी एक डिवाइस को खरीदकर अपने घर को कीटों से मुक्त करने का मन बना लेते हैं, हालांकि इससे आपकी समस्या का अंत नहीं होगा। यह समझना महत्वपूर्ण है कि एक अल्ट्रासोनिक पेस्ट रिपेलर वास्तव में क्या है।


अल्ट्रासोनिक पेस्ट रिपेलर कैसे काम करते हैं?

  अल्ट्रासोनिक उपकरणों को एक घर के विद्युत सॉकेट में प्लग किया जाता है, तब उनसे कीटों के लिए विघटनकारी उच्च आवृत्ति की ध्वनि (अल्ट्रासाउंड) निकलती है। अल्ट्रासाउंड, जिसे मानव द्वारा सुनी जा सकने वाली ध्वनि की ऊपरी सीमा से परे ध्वनि आवृत्तियों द्वारा परिभाषित किया गया है। 


     इस ध्वनि से माना जाता है कि कीड़ों और कीटों पर एक शारीरिक प्रतिक्रिया होती है जिससे वे भ्रमित हो जाते हैं। इन उपकरणों के पीछे सिद्धांत यह है कि भ्रमित इंसेक्ट्स अंततः भाग जाते हैं क्योंकि अल्ट्रासाउंड का व्यवधान उन्हें भोजन इकट्ठा करने, प्रजनन करने, घोंसले बनाने या संचार करने से रोकता है।

Ultrasonic -Pest- Repeller-on

  अल्ट्रासोनिक डिवाइस लोकप्रिय हैं।  उपभोक्ताओं का इनके प्रति आकर्षित होने का कारण इसके उपयोग में आसानी और विज्ञापन में बताया गया यह तथ्य है कि ये मानव के लिए हानिरहित हैं। साथ ही ये इन्सेक्ट कण्ट्रोल के लिए जाल और जहर की आवश्यकता को समाप्त करते हैं, जो कि कीट नियंत्रण के लिए कुछ अमानवीय रूप से देखा जाता है।


 क्या अल्ट्रासोनिक डिवाइस काम करते हैं?


अल्ट्रासोनिक उपकरण उच्च-आवृत्ति ध्वनियों का उत्सर्जन करने का दावा करते हैं जो मनुष्यों की श्रवण सीमा से बाहर हैं, लेकिन मच्छरों सहित दूसरे कीटों के लिए हानिकारक सही आवृत्ति हैं। लेकिन इस दावे का उनके पास कोई पुख्ता प्रमाण नहीं है कि ये डिवाइस सही काम करते हैं। 


 Ultrasonic Pest Repellents की प्रभावकारिता की जांच करने के लिए किए गए अध्ययनों ने इन उपकरणों की उपयोगिता नकार दी है।  कैनसस स्टेट यूनिवर्सिटी द्वारा किए गए एक व्यापक परीक्षण में पाया गया कि इन उपकरणों का चींटियों और मकड़ियों पर कोई प्रभाव नहीं पड़ा, तिलचट्टों पर बहुत कम प्रभाव पड़ा।


   कुछ परीक्षणों से पता चला है कि अल्ट्रासाउंड से परेशान होने वाले कीट जल्द ही इसके अभ्यस्त हो जाते हैं क्योंकि उन्हें पता चलता है कि शोर हानिरहित है। 

Ultrasonic -Pest- Repeller

   यहां तक ​​कि परीक्षण में आंशिक रूप से सफल डिवाइस के मॉडल के भी घरों के भीतर सफल होने या अच्छा प्रदर्शन करने की संभावना नहीं है, जहां सिग्नल को दीवारों और फर्नीचर द्वारा अवरुद्ध किया जा सकता है, जिससे उसकी ताकत तेजी से कम हो जाती है। कई वैज्ञानिक अध्ययन बताते हैं कि ये उपकरण मच्छरों को भी नहीं भगाते हैं। 

 

   अमेरिकी संघीय व्यापार आयोग (FTC) ने झूठे विज्ञापन के लिए कई ध्वनि विकर्षक उपकरणों  की जांच की है। 2016 में, न्यूयॉर्क अटॉर्नी जनरल ने अल्ट्रासोनिक पेस्ट रेपेलर के दो विशिष्ट ब्रांडों के निर्माताओं को कटघरे में खड़ा किया था। कई वैज्ञानिक अध्ययन ये बताते हैं कि इन उपकरण निर्माताओं द्वारा किया जाने वाला यह दावा झूठा है कि घरेलू कीड़े और कीटों को हटाने का काम करने में ये डिवाइस प्रभावी हैं।


मेरा स्वयं का अनुभव -


अल्ट्रासोनिक पेस्ट रेपेलर की सच्चाई जानने के लिए मैंने टीवी में दिखाए जाने वाले इसके विज्ञापन  में प्रदर्शित नंबर पर कॉल करके 999 /- में ऐसी 2 डिवाइस मंगवाई थी। 


  इसके विज्ञापन में दिखाया गया था कि यह डिवाइस चूहे, छिपकली, मच्छर व सभी तरह के इंसेक्ट्स को घर से भगाने में सक्षम है।कॉल करके पूछने पर बताया गया कि इस डिवाइस का असर 15 दिन में पता लगेगा।

Ultrasonic -Pest- Repeller-on-with insect

 
 डिवाइस को 15 दिन क्या कई हफ्तों तक प्रयोग करने के बाद भी कोई सकारात्मक परिणाम नहीं मिला और जैसा कि आप चित्र में देख सकते हैं, छिपकली डिवाइस के पास ही घूमती नज़र आ रही है। 

   इस प्रकार लोगों को छलपूर्ण विज्ञापन दिखाकर फंसाने का काम ये कंपनियां कर रही हैं और उनके साथ धोखा किया जा रहा है। 

   इसे खरीदने पर अपने पैसों के बदले में आपको एक ऐसा प्लास्टिक का खोखा प्राप्त होता है जिसमें लाल और हरे रंग की दो लाइट लगी होती है, बस उन्हें जलता बुझता देखते रहिये।

  कुछ डिवाइस में एक स्पीकर लगा होता है जिससे कीटों को तो कोई फर्क नहीं पड़ता परन्तु कुछ देर तक उसकी आवाज़ सुनने पर आपका सिर जरूर भन्नाने लगेगा और आप उसे ऑफ करने पर मजबूर होजायेंगे। 

    

   जबकि उसमें से अल्ट्रासोनिक साउंड निकल रही होती तो वह आपको सुनाई नहीं पड़नी चाहिए थी, क्योंकि मानव कान उसे सुनने में सक्षम नहीं होते हैं। इस प्रकार के अन्य डिवाइस भी उपलब्ध हैं जैसे - इलेक्ट्रोमैग्नेटिक और मच्छरों को आकर्षित करके मारने वाले उपकरण। परन्तु इनमें से अधिकांश की उपयोगिता लगभग शून्य है। 


also read -


Ponzi Scheme Frauds-पोंज़ी स्कीम क्या है? इसकी ठगी से कैसे बचें 


Black Truth of Share Market-शेयर मार्केट का काला सच 


Veichle insurance claim-कार दुर्घटना क्लेम कैसे लें 

mosquito -net

अल्ट्रासोनिक पेस्ट रेपेलर के बेहतर विकल्प -


कीट नियंत्रण के कई दुसरे विश्वसनीय रूप उपलब्ध है जो प्रभावी और सस्ते भी हैं जैसे चूहों के लिए पिंजरे का प्रयोग अथवा मच्छरों से बचाव के लिए मच्छरदानी का प्रयोग किया जा सकता है। 


   मच्छरों से बचने के लिए अगरबत्ती और लिक्विड वेपोराइजर का प्रयोग कर सकते हैं, बशर्ते आपको इनका धुआं और गंध बर्दाश्त होता हो। यदि घर में लकड़ी को नष्ट करने वाले दीमक आदि का प्रकोप बढ़ता दिखे तो किसी पेस्ट कंट्रोलर फर्म से सम्पर्क करना बेहतर हो सकता है।


  आशा है ये आर्टिकल "Ultrasonic Pest Repeller-अल्ट्रासोनिक कीट विकर्षक: एक धोखा " आपको उपयोगी लगा होगा। इसे अपने मित्रों तक शेयर कर सकते हैं। अपने सवाल और सुझाव कमेंट बॉक्स में लिखें। ऐसी ही और भी उपयोगी जानकारी के लिए इस वेबसाइट पर विज़िट करते रहें। 


also read -


Purity of Gold-24k, 22k और 18k सोने की शुद्धता  


8 tips to stop overthinking-ज्यादा सोचने की आदत से कैसे बचें 


Career after Graduation-ग्रेजुएशन के बाद क्या करें 


No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad