Personality development tips in hindi. व्यक्तित्व विकास के टिप्स - sure success hindi

success comes from knowledge

Breaking

Post Top Ad

Thursday, April 18, 2019

Personality development tips in hindi. व्यक्तित्व विकास के टिप्स

Personality development tips in hindi. व्यक्तित्व विकास के टिप्स 

यह संसार विविधता पूर्ण है। यहां की हर चीज़, दूसरे से पूर्णतः भिन्न है प्रत्येक प्राणी की अपनी एक अलग पहचान है। यही भिन्नता प्रत्येक व्यक्ति में भी पायी जाती है जिसके चलते हमारे जीवन में मिलने वाले परिणामों में बहुत अंतर् होता है। 

          हमारे शारीरिक गठन के साथ हमारे हावभाव लोगों से मिलने का तरीका उनके प्रति हमारे विचार, यही सब मिलकर तय करते हैं कि सामने वाला व्यक्ति आपका कैसा आकलन करेगा। कुछ व्यक्ति समाज में अपने सीमित ज्ञान के बाद भी लोकप्रिय होते हैं। वहीं  कुछ लोग अच्छे ज्ञान के बावजूद समाज में अपना स्थान नहीं बना पाते क्योंकि वे अपने आप को सही तरीके से प्रस्तुत करना नहीं जानते। इसका कारण व्यक्तित्व में पाई जाने वाली भिन्नता और कमियां हैं।
heart shape
  

       किसी व्यक्ति के व्यक्तित्व को उसके गुणों और विशेषताओं के आधार पर  परिभाषित किया जाता है। यह  व्यक्ति के  चरित्र और उसकी छवि बनाने में योगदान देता है। किसी व्यक्ति का व्यक्तित्व उसके रूप, व्यवहार, दृष्टिकोण, शिक्षा, मूल्यों और कुछ विशेषताओं से निर्धारित होता है। 

        व्यक्तित्व विकास एक सर्वांगीण विकास है। यह काम समय लेने वाला है और रातोरात यह परिवर्तन नहीं होने वाला।  यदि अपने व्यक्तित्व को प्रभावी बनाना चाहते हैं तो अपने अंदर की कमजोरियों को दूर करने का प्रण लेना होगा। साथ ही कुछ  गुणों को अपनाना होगा तभी आपकी personality निखर सकेगी। 

पर्सनैलिटी को बेहतर बनाने के टिप्स

 1. आत्मविश्वासी बनें

आत्मविश्वास निश्चित रूप से व्यक्ति के व्यक्तित्व में सबसे महत्वपूर्ण कारक है। कुछ लोगों में आत्मविश्वास बहुत मजबूत होता है और कुछ में नहीं। 

        आत्मविश्वास की कमी के मूल कारणों में जीवन में होने वाली गलतियां या विफलता होती हैं जिसके कारण व्यक्ति स्वयं को  दोषी मानता है इस कारण व्यक्ति का आत्मविश्वास  नीचे जा सकता है। कुछ लोग अक्सर अपनी शारीरिक बनावट, पारिवारिक पेशे आदि के कारण हीन भावना के शिकार हो  जाते हैं।।

   आपका आत्मविश्वास आपके चरित्र, दृष्टिकोण और जुनून को दर्शाता है। आपको इस बारे में आश्वस्त होना चाहिए कि आप यूनिक  हैं और आप जो भी करते हैं पूरे जूनून के साथ करते हैं.

        जिसका परिणाम अंत में बड़ी सफलता के रूप में आपको मिलने वाला है । आत्मविश्वासी होने से आपको खुद को व्यक्त करने और भीड़ के बीच खड़े होने में मदद मिलेगी।

2. बॉडी लैंग्वेज सुधारें  

बॉडी लैंग्वेज किसी व्यक्ति के आत्मविश्वास और व्यक्तित्व को आंकने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाती है। आपके चलने और उठने बैठने का ढंग  दूसरों के ऊपर अपना पॉज़िटिव या नेगेटिव प्रभाव डालता है। चलते समय किसी के झुके हुए कंधे, नीची नजरें उसके कमजोर व्यक्तित्व को  दर्शाती हैं। 

        किसी के  साथ बातचीत करते समय नजरें मिलाकर बात करना सामने वाले व्यक्ति के ऊपर सकारात्मक प्रभाव डालता है। इधर उधर देखकर बात करना, बातचीत में आपकी अरुचि को दर्शाता है। इस प्रकार आपके हावभाव दूसरों के साथ बातचीत करते समय एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं।
woman

3. अपने कपड़ों पर ध्यान दें 

अपने ड्रेसिंग सेंस को सुधारें। आपको इस बात का ज्ञान होना चाहिए कि ऑफिस, पार्टी या किसी अन्य अवसर के लिए कैसे तैयार होना चाहिए। एक व्यक्ति को अवसर के अनुकूल ड्रेस  पहनना चाहिए और उसे यह पता होना चाहिए कि किस तरह की ड्रेस  उस पर अच्छी लगती है। 

    फैशन के साथ कलर कॉम्बिनेशन का अच्छा ज्ञान आपके व्यक्तित्व को उभरकर आने में सहयोगी होगा। स्वयं को कैसे प्रस्तुत करना है इस बात का ज्ञान व्यक्तित्व और आत्मविश्वास के विकास में एक प्रमुख भूमिका निभाता है।

4. बातचीत का तरीका सुधारें 

कहते  हैं कि "यदि किसी को जानना है तो उसे बोलने के लिए कहें।" किसी व्यक्ति के बोलने का तरीका दर्शाता है कि वह  कौन हैं।  बातचीत करते समय सभ्य शब्दों का प्रयोग और विनम्रता आपके सुलझे हुए व्यक्तित्व की ओर इशारा करती है, इसलिए अपनी वाणी की मधुरता का ध्यान करें। आप  "think before speak"  के नियम को याद रखते हुए बोलने से पहले हमेशा सोचें फिर बोलें।  
lady with flowers

              "बोलें कम और सुनें ज्यादा", ऐसा करने से सुनने वाले व्यक्ति पर इसका अच्छा प्रभाव पड़ता है। परन्तु लोग अक्सर इसका उल्टा करते देखे जाते हैं। आपके सामने उपस्थित व्यक्ति की बिना सुने, अपनी बोलते जाना उसे इरिटेट करता है।

         पहले सामने वाले व्यक्ति को बोलने का पूरा मौका दें और जब वो बोल रहा हो तब उसे बीच में न टोंके। उसे लगना चाहिए कि आप उसकी बात ध्यान पूर्वक सुन रहें हैं। 

 5. सामाजिक कौशल में सुधार 

मनुष्य को एक सामाजिक प्राणी होने के नाते हमेशा दूसरे लोगों या  समूह के साथ बातचीत करनी होती है। संकोची होना, व्यक्तित्व की हीनता को प्रकट करता है।  हमेशा करंट अफेयर्स और अपने समाज में क्या हो रहा है इसकी जानकारी रखें। समूह चर्चा और सेमिनारों में भाग लेने का प्रयास करें। 

           अपने आप को व्यक्त करने का कोई मौका न छोड़ें और जरूरत पड़ने पर  आगे आकर नेतृत्व करें। अपने अधीनस्थों के लिए एक उदाहरण स्थापित करने के लिए कड़ी मेहनत करें। नेतृत्व कौशल से आपका व्यक्तित्व उभर कर लोगों के सामने प्रस्तुत  होता है। 



also read - 
  1. what are effective speech skills
  2. what is health in hindi

woman with plants

 6. आशावादी बनें

हर चीज के प्रति सकारात्मक दृष्टिकोण रखें। कोई भी व्यक्ति ऐसे व्यक्ति के आसपास नहीं रहना चाहता जो नकारात्मक हो और हर समय शिकायत करता हो। जब आप असफलता का सामना करते हैं, तब भी लोगों के सामने विचलित दिखाई न पड़ें।

       निराशा का बुरा प्रभाव आपकी बॉडी लैंग्वेज पर पड़ता है। अपने कार्य में पूरी निष्ठां से लगे रहें याद रखें हर रात की सुबह जरूर होती है। अपने लक्ष्य के प्रति आशावादी दृष्टिकोण रखेंगे तभी आपकी अच्छी छवि लोगों के सामने दिखाई पड़ेगी।

7. लोगों में रूचि लीजिये 

आपसे जितना सम्भव हो सके उतना लोगों के काम आइये। निःस्वार्थ मदद से आपकी अच्छी छवि लोगों के दिलोदिमाग में बनती है। अगर लोगों को प्रभावित  करना है तो उनकी रूचि या इंटरेस्ट की बातें करें। उनके शौक और कार्यों में रूचि लेना जरूरी है,तभी उन्हें समझ पाएंगे। 

       हर किसी में कोई गुण या अच्छाई जरूर होती है। मौका लगने पर उन्हें प्रोत्साहित करें और उनकी तारीफ भी करें। किसी की तारीफ करके आप उसके दिल में जगह बना लेते हैं, अपनी तारीफ सुनकर वह खुश  हो जाएगा। 

8. स्वयं का निरीक्षण करते रहें          

स्वयं का आत्म निरीक्षण हमेशा करते रहें और देखें कि उसमे सुधार की गुंजाइश कहाँ है। एक सफल व्यक्ति में हमेशा ही और अच्छा बनने के लिए सीखने का गुण पाया जाता है और व्यक्तित्व विकास के लिए ये गुण आवश्यक है। 

          काम पर रहते हुए नई चीजें सीखने के लिए आपके अंदर हमेशा जोश होना चाहिए। यह आपके उत्साह को दर्शाता है।  

         उपर्युक्त विशेषताओं पर काम करने से आपको एक अच्छे व्यक्तित्व वाले व्यक्ति के रूप में पहचान बनाने में मदद मिलेगी।

      आशा है यह पोस्ट  "Personality development tips in hindi. व्यक्तित्व विकास के टिप्स " आपके लिए उपयोगी सिद्ध होगी। इसे शेयर करें और अपने सवाल या सुझाव के लिए कमेंट कर सकते हैं। ऐसी और भी उपयोगी जानकारी के लिए इस वेबसाइट पर विजिट करते रहें।

 also read - 


  1. how to sleep well
  2. money management in share trading





1 comment:

  1. personality development ke upar bahut hi shaandar tips di hain aapne. padhkar accha laga.

    ReplyDelete

Post Bottom Ad